Home उत्तराखंड सोशल मीडिया पर फोटो को कमेंट करने के विवाद में आरोपी ने...

सोशल मीडिया पर फोटो को कमेंट करने के विवाद में आरोपी ने मारी थी छात्रा को गोली, पकड़ा गया आरोपी

371

सिद्धार्थ लॉ कालेज के पास छात्रा को गोली मारकर उसकी हत्या कर फरार हुए अभियुक्त को 24 घंटे के अन्दर थाना रायपुर पुलिस ने किया गिरफ्तार।

गुरुवार को ग्राम प्रधान डांडा लखौंड द्वारा जरिये टेलीफोन थानाध्यक्ष रायपुर को सूचना दी गयी कि, सिद्धार्थ लॉ कालेज के पास एक युवक एक युवती को गोली मारकर फरार हो गया है। उक्त सूचना पर तत्काल थानाध्यक्ष रायपुर मय पुलिस बल के मौके पर पहुंचे तथा मौके पर पुलिस टीम द्वारा 108 एम्बुलेंस के माध्यम से गम्भीर अवस्था में घायल पडी युवती को उपचार हेतु हीलिंग टच हास्पिटल ले जाया गया। जहां चिकित्सको द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया गया। घटना के सम्बन्ध में उच्चाधिकारीगणों को अवगत कराते हुए मृतक युवती के परिजनों को सूचना दी गयी तथा उच्चाधिकारीगणों के निर्देश पर कंट्रोल रूम के माध्यम से सभी थाना प्रभारियों को अभियुक्त के हुलिये से अवगत कराते हुए अपने-अपने क्षेत्रों में तथा जनपद की सीमाओं पर स्थित अन्तर्जनपदीय/अन्तर्राज्जीय बैरियरों पर प्रत्येक वाहन की सघन चैकिंग करने के निर्देश दिये गये। पुलिस द्वारा घटना स्थल से घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल व तमंचा बरामद किया गया। घटना के सम्बन्ध में मृतका के पिता  राकेश बंसल द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर अभियुक्त आदित्य तोमर के विरूद्ध थाना रायपुर पर मु0अ0सं0: 109/22 धारा: 302 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया। घटना की गम्भीरता के दृष्टिगत पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय द्वारा घटना के अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्राधिकारी नेहरू कालोनी के पर्यवेक्षण में अलग-अलग टीमों का गठन किया गया। पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल के आस-पास के सीसीटीवी कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करते हुए मौके पर उपस्थित लोगों से घटना के सम्बन्ध में आवश्यक पूछताछ की गयी, साथ ही सर्विलांस के माध्यम से अभियुक्त के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित करते हुए मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया। इसी क्रम में आज दिनांक: 04-03-2022 को मुखबिर के माध्यम से पुलिस टीम को जानकारी प्राप्त हुई कि हत्या की घटना को अंजाम देने वाले अभियुक्त आदित्य तोमर के हुलिये से मिलते जुलते एक युवक को शिवगंगा एन्क्लेव के निकट स्थित आर्मी हास्टल के पास झाडियों से संदिग्ध अवस्था में बाहर आते हुए देखा गया है। उक्त सूचना पर पुलिस टीम द्वारा शिवगंगा एन्क्लेव के आस-पास के क्षेत्र की घेराबंदी करते हुए शिवगंगा एन्क्लेव को जाने वाली रोड पर स्थित पुल से करीब 300 मीटर आगे एक संदिग्ध युवक को हिरासत में लिया गया। जिससे पूछताछ करने पर उसके द्वारा अपना नाम आदित्य तोमर पुत्र स्व0 अनिल तोमर बताया गया, मौके से अभियुक्त को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से घटना के समय इस्तेमाल किया गया मोबाइल फोन बरामद किया गया। अभियुक्त को समय से मां0 न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

*नाम/पता गिरफ्तार अभियुक्त:*
आदित्य तोमर पुत्र स्व0 अनिल तोमर निवासी: ईश्वर विहार सुन्दरवाला, थाना रायपुर देहरादून, मूल निवासी: ग्रा0 उनखेडकी, थाना उन जिला शामली उत्तर प्रदेश

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पूछताछ में अभियुक्त आदित्य तोमर द्वारा बताया गया कि वह सिद्धार्थ फार्मेसी आई0टी0पार्क देहरादून में डी0फार्मा प्रथम वर्ष का छात्र है तथा मृतका कु0वंशिका उसी के साथ पढती थी। लगभग एक माह पूर्व वंशिका द्वारा सोशल मीडिया पर अपनी एक फोटो अपलोड की गयी थी, जिस पर मेरे द्वारा कमेंट किया गया था। जिसको लेकर वंशिका तथा मेरे बीच कहासुनी हो गयी तथा वंशिका द्वारा हमारे कालेज में उसके परिचित सीनियर छात्रों से इस सम्बन्ध में मेरी शिकायत की गयी, जिनके द्वारा मेरे परिजनों को फोन कर इसकी जानकारी दी गयी थी। उसके पश्चात कालेज बन्द हो गया तथा दिनाक: 03-03-2022 को कालेज के खुलने पर शाम के समय मेरी मुलाकात कालेज के गेट के सामने वंशिका से हुई और हम दोनो के बीच फिर से इस बात को लेकर कहासुनी हो गयी। वंशिका ने मौके पर अपने परिचित सीनियर छात्रों को बुला लिया जिनके द्वारा मुझे डरा धमाककर मुझसे जबरदस्ती वंशिका के पैर छूकर उससे माफी मगंवाई गयी। इस बात को लेकर मैं आवेश में आ गया और पूर्व से मेरे पास रखे एक तमंचे को लेकर वापस कालेज के पास आया। कालेज के पास ही स्थित दैनिक उपयोग की दुकान में मुझे वंशिका मिली, जहां मैने उसे तंमचा दिखाकर उन लोगों को बुलाने की बात कही। इसी बीच हम दोनो के बीच हुई कहासुनी में मैने वंशिका को गोली मार दी और पकडे जाने के डर से मैं अपनी मोटर साइकिल व तमंचा मौके पर ही छोडकर वहां से फरार हो गया। मैं देहरादून से भागने की फिराक में था लेकिन जगह-जगह देहरादून पुलिस द्वारा की जा रही सघन चैकिंग को देखकर पकडे जाने के डर से रातभर मैं रायपुर क्षेत्र में जंगल में छिपा रहा तथा आज फिर वहां से भागने की फिराक में था कि तभी पुलिस द्वारा मुझे गिरफ्तार कर लिया गया।

*बरामदगी:*
01: घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल नं0: यू0के0-07-बीएम-1359
02: घटना में प्रयुक्त तमंचा मय खोखा
03: एक मोबाइल फोन (की-पैड वाला)

 

LEAVE A REPLY